Tulsi ki Chai ke Fayde (Benefits of Basil Tea)

tulsi ki chai ke fayde

Tulsi ke Plant ke fayde or Nuksan

tulsi ki chai ke fayde

पवित्र और स्वस्थ तुलसी चाय कफ और वात को शांत करने में मदद करता है। तथा एक स्वस्थ श्वसन प्रणाली और मजबूत शरीर के ऊतकों को सुनिश्चित करता है. Tulsi ki chai ke fayde तो बहुत है और इसका स्वाद भी अलग होता है| Tulsi ke labh ठंड के मौसम में तुलसी की चाय को जरुर पीना चाइये इससे ठण्ड में सर्दी, जुखाम, कफ से होने से बचेंगे|

Tulsi ke plant में बहुत गुड होते है ये कही रोगों करने में फायदेमंद है इसके रोज़ इस्तमाल से आप का शरीर में कम बिमारिया पनपेगी तथा पुरे दिन भी अच्छा जायेगा क्योंकि तुलसी को पीने के बाद ताजगी आती है जो वैसी चाय में नहीं आती|

Tulsi ki chai(Tulsi ki Chai ke fayde) को बहुत तरीके से बना सकते है और अगर आपको बहुत ज्यादा सर्दी, झुकाम है तो tulsi ke kada को बना कर पी सकते है| तो आइये आज बात करते है tulsi ki chai receipe. और पढ़े- तुलसी खाने के फायदे और वायरल इन्फेक्शन्स से कैसे बचे 

कैसे बनाए सेहतमंद तुलसी की चाय

tulsi ki chai ke fayde

How to make Tulsi Tea at home?

सामग्री(Ingredient)
ताजा तुलसी के 10 पत्ते(10 basil leaves)

चाय पत्ती 2 चमच्च (2 tbsp tea leaves)

चीनी स्वादानुसार (sugar as needed)

1 कप पानी (1 cup water)

1 कप दूध (1 cup milk)

Basil Tea Process in Hindi

फिर एक कप पानी में चीनी, चाय पत्ती, और तुलसी की पत्ते को दल कर 5 मिनट के लिए उबाल ले| फिर दूध को डालकर अच्छी से खतकने दे|
अब इस मिश्रण को छान लें और आपकी Tulsi wali chai तैयार है.

फिर इस गर्म चाय पीने के बाद 1 से 2 घंटे तक इसके ऊपर पानी न पीये|

Tulsi ki Chai ke fayde For kuf(कफ़):

ठंडो के मौसम में सर्दी, झुकाम, गले में खराश होना आम बात है और तुलसी की चाय इससे अच्छा उपाय नहीं है|

सामग्री(Ingredient)

10 पत्ते तुलसी के (10 basil leaves)

2 काली मिर्च (थोड़ी पीसी हुई) (2 black peppercorns)

2 लौंग (थोड़ी पीसी हुई) (2 clove)

1 छोटा टुकड़ा अदरक का (small piece of ginger)

1 कप दूध (1 cup milk)

1 कप पानी (1 cup water)

चीनी स्वादानुसार (sugar as needed)

1 चमच्च चाय पत्ती (1 tbsp tea leaves)

Tulsi ki Chai ki vidhi kharash, Jhukam, Sardi ke liye:

अब पानी में काली मिर्च, लौंग, अदरक, चीनी, चाय पत्ती को अच्छे से उबाल ले जब इसमें रंग आने लगे तो इसमें दूध डाल दे और अच्छे से खतकने दे|

अब चाय को कप में छान ले अब आपकी चाय तैयार है

इस चाय को पीने के बाद गले होने वाली खराश, झुकाम से राहत मिलेगी और इसको पीने के बाद हो सके तो ठण्ड में निकलने से बचे और ठंडा पानी न पीये|

Tulsi Green Tea Benefits in Hindi

यह (sinusitis)साइनसइटिस, फ्लू, इन्फ्लूएंजा, घास का बुखार, ब्रोंकाइटिस, कफ प्रकार के बुखार, अस्थमा और अन्य कफ से संबंधित विकारों में बहुत फायदेमंद होती है।

Basil Tea side effects in Ayurveda

ये नुस्खा कफ दशा और वात दोसा को शांत करता है। तथा यह पित दोष बढ़ाता है