अश्वगंधा के फायदे और नुकसान- Benefits for Ashwagandha and Side Effects of Ashwagandha

Contents

अश्वगंधा के फायदे और नुकसान- Benefits for Ashwagandha and Side Effects of Ashwagandha

आइये दोस्तों आज हम जानते है एक ऐसी रहस्यमई और चमत्कारी औषधि के बारे में जिसको प्राचीन समय में हमारे भारत में हर मर्ज का लोहा माने जाने वाली आयुर्वेदिक चिकित्सा के अंतर्गत सबसे पहले नंबर पर रखा जाता था दोस्तों इस रहस्यमई और चमत्कारी औषधि का नाम है अश्वगंधा – Ashwagandha है जो की हमारे भारत में सर्वाधिक मात्रा में पायी जाती है.

अश्वगंधा का सेवन कैसे करें – How to take Ashwagandha

लेकिन बदलते समय के अनुसार हम इस रहस्यमई और चमत्कारी औषधि के लाभ और नुक्सान को छोड़ दें तो हम इसका नाम तक भूलते चले जा रहे हैं. इस बदलते समय को मध्य नजर रखते हुए आज हम आपको कुछ रहस्यमई और हमारे स्वास्थय के लिए वरदान साबित होने बाली औषधि अश्वगंधा(Ashwagandha) के बारे में बताने जा रहे है. आइये जानते है अश्वगंधा से हमारे शरीर और सेहत पर पड़ने वाले चमत्कारी प्रभाव और इस रहस्यमई औषधि के स्वस्थायिक लाभ पाने के लिए हम अपनी दिनचर्या में कैसे शामिल कर सकते है.

Benefits for Ashwagandha and Side Effects of Ashwagandha

यह चमत्कारिक जड़ीबूटी समुद्र के तटीय इलाकों और शुष्क इलाकों में बहुत ही अधिक मात्रा में पायी जाती है इसका उपयोग हम चूर्ण व इसके रस को निकाल कर किया जाता है तो दोस्तों आईये जानते है हमारे स्वास्थय को हमेशा के लिए स्वस्थ रखने वाली इस रहस्मयी बूटी को अपनी बिजीलाइफ की दिनचर्या में शामिल करने के सबसे आसान और सरल तरीके के बारे में-

अश्वगंधा का चूर्ण बनाने की विधि – How to make Ashwagandha Roots Powder

how to make ashwagandha roots powder

अश्वगंधा का चूर्ण बनाने के लिए सबसे पहले बाजार में किसी भी किराना की दुकान पर मिलने वाली अश्वगंधा(Ashwagandha) जड़ को खरीद कर घर ले आएं.  उसके बाद इन जड़ों को ओखली में डाल कर तब तक कूटें जब तक अश्वगंधा जड़ें पीस कर के पाउडर या चूर्ण की तरह न हो जाएँ अब आपका अश्वगंधा चूर्ण बनकर के तैयार है अब इस चूर्ण को भर निकाल कर के किसी साफ़ कांच के बर्तन में रख लें.

अश्वगंधा चूर्ण को अपने दैनिक जीवन में प्रयोग लाने की आसान व सबसे सरल विधि

अश्वगंधा चूर्ण सेवन करने की विधि – How to take Ashwagandha Roots Powder

इस आयुर्वेदिक औषधि के एक चम्मच चूर्ण में परस्पर समान मात्रा में चीनी का चूर्ण मिलाकर के गाय के दूध के साथ शाम को खाना खाने के बाद व सोने से पहले सेवन कर सकते है.

how to take ashwagandha roots powder

अश्वगंधा रस बनाने की विधि – How to make Ashwagandha Leaf Juice

अश्वगंधा रस को बनाने के लिए अश्वगंधा की हरी पत्तियों को लाना होगा अब इन हरी पत्तियों को साफ़ पानी से अच्छी तरह से धोलें अब इन पत्तियों को एक सूती कपडे में लेकर के निचोड़ निचोड़ कर इनका सारा रस निकाल लें पत्तियों को निचोड़ कर एकत्त्रित हुए रस को किसी साफ़ बर्तन में रख लें अब आपका अश्वगंधा रस तैयार है.

how to make Ashwagandha Leaf Juice

अश्वगंधा रस को अपने दैनिक जीवन में प्रयोग लाने की सबसे सरल व आसान विधि

अश्वगंधा रस के सेवन करने की विधि – How to take Ashwagandha Leaf Juice

इस चमत्कारी अश्वगंधा के रस को दो – दो चम्मच सुबह शाम खाली पेट सेवन कर अपनी बिजी लाइफ की दिनचर्या में शामिल कर सकते है
Ashwagandha Ke Fayde दोस्तों अभी आपने जाना था की हम अपनी बिजी दिनचर्या में किन सरल व आसान तरीकों से रहस्यमयी चमत्कारी अश्वगंधा को किस प्रकार शामिल कर सकते है Ashwagandha Ke Fayde अब आइये जानते है इस चमत्कारी अश्वगंधा का नियमित रूप से सेवन करने से मिलने वाले स्वस्थायिक फायदों के बारे में

तो आइये जानते है अश्वगंधा के नियमित सेवन से मिलने वाले फायदे

how to take ashwagandha leaf juice

अश्वगंधा हाइट बढ़ने के लिए – Ashwagandha for Increase Height

इस आयुर्वेदिक औषधि के चमत्कारिक चीनी मिक्स अश्वगंधा चूर्ण को गाय के दूध के साथ नियमित रूप से सेवन करने से लम्बाई बढ़ने की समय से निजात मिलती है. इस चूर्ण का उपयोग आयुर्वेद में अधिकतर लम्बाई न बढ़ने की परेशानी को जड़ से ख़त्म करने के लिए ही किया जाता है इस चूर्ण से वंश के साथ चले आ रहे बोनापन , ठिगनापन या कई तरीके से जुडी लम्बाई की समस्या को जड़ से ख़त्म किया जा सकता है इसके आलावा आयुर्वेद में इस चूर्ण को शारीरिक दुर्बलता को खत्म करते हुए शरीर को पूर्ण रूप से विकसित करने का सबसे बड़ा आधार माना गया है

ashwagandha for Increase Height

अश्वगंधा ह्रदय रोग के लिए – Ashwagandha for Heart Patient

इस औषधि का नियमित रूप से समय के अनुसार सेवन करने से यह ह्रदय से जुडी सभी प्रकार जैसे -हार्ट अटैक ,हार्ट फ़ैल ,हार्ट का कमजोर होना ,आदि को कम कर हृदय की मांसपेशियों को ताकत देता है साथ ही कोलेस्टॉल को भी बढ़ने से रोकता है.

Read More :- Beetroot Benefits and Side Effects- Beetroot Health Benefits

ashwagandha for heart patient

अश्वगंधा के फायदे कैंसर में – Ashwagandha Ke Fayde for Cancer

अश्वगंधा कैंसर रोगियों के लिए वरदान माना जाता है Ashwagandha Ke Fayde खास कर यह ब्रेन ट्यूमर के मरीजों को सेवन करने की सलाह दी जाती है क्योकि यह ट्यूमर की सेल्स को जड़ से ख़त्म कर उसके उपचार के लिए की गयी कीमोथैरेपी से होने बाले नुकसान से बचाने में कामयाब होता है.

Ashwagandha Ke Fayde for Cancer

संक्रमण रोधी अश्वगंधा – Ashwagandha Benefits for Bacterial Infection

चमत्कारी अश्वगंधा रस को नियमित रूप से पीने से यह हमारे शरीर की मूत्र नलिका ,छोटी आंत ,बड़ी आंत ,और श्वसन तंत्र में होने वाले संक्रमण को हटाकर के शरीर को बीमारियों से बचाने में सबसे असरदार साबित होता है.

Ashwagandha Benefits for Bacterial Infection

डायबिटीज के लिए अश्वगंधा – Ashwagandha Benefits for Diabetes

एक शोध में अश्वगंधा का 28 दिनों तक सुबह शाम खाली पेट सेवन करने पर डायबिटीज के कारण खून में होने वाली शुगर की अधिक मात्रा को 85 % तक कम करने में अश्वगंधा सफल रहा है Ashwagandha Ke Fayde इसके आलावा डायबिटीज के शुरुआती मरीजों की शुरुआती मधुमेह को 100 % तक ख़त्म करने में कामयाबी हासिल की है.

ashwagandha benefits for diabetes

कामोत्तेजना को बढ़ने के लिए अश्वगंधा का प्रयोग – Ashwagandha Ke Fayde for Improve Male Libido

हमारे भारत देश में बहुत पुराने समय से आयुर्वेदिक औषधी अश्वगंधा का प्रयोग कामोत्तेजना को बढ़ने के लिए किया जाता रहा है अश्वगंधा के नियमित सेवन से शरीर की मांसपेशियों में मजबूती के साथ – साथ यह हमारी शक्ति और सेक्स करने की छमता को भी सुधारने तथा वीर्य को गाढ़ा व इसकी मात्रा को भी बढाने का काम करता है.

Ashwagandha Ke Fayde

इस चमत्कारिक आयुर्वेदिक औषधि अश्वगंधा का सेवन करते समय इन चीजों का सेवन कभी न करें

इस औषधीय चूर्ण के सेवन करने के दिनों में किसी भी प्रकार की खट्टी ,तीखी अथवा अधिक मसाले से बनी चीजें और बाजार में बनने वाली तेलिय चीजों का सेवन पूर्ण रूप से बंद कर देना होगा

अश्वगंधा के नुकसान – Side Effects of Ashwagandha

रहस्यमई चमत्कारी अस्वगंधा का सेवन गर्भबती महिलाओं के लिए पूर्ण रूप से बर्जित माना जाता है

जाने दादी-नानी के घरेलू नुस्खो के बारे में:-

Sugar ki Bimari ka ilaz – Sugar Hone ke Karan

Khali Pet Lehsun Khane Ke Fayde – Lehsun or Shehad khane ke Fayde

Motapa Kam Krne ke Desi Totkey – baba ramdev ka motapa kam karne ka yoga

You may also like